पानी पीने का सही तरीका क्या है || 99% of the people don’t know the right way to drink water- Explained In Hindi

पानी पीने का सही तरीका क्या है ||  99% of the people don’t know the right way to drink water- Explained In Hindi

दोस्तों क्या  आप   जानते  है  पानी  पीने  का  सही  तरीका   क्या  है ? 
 
जी  हां , आज  हम  इसी  बारे  में  चर्चा  करेंगे  कि  क्या  है  सही  तरीका
पानी  पीने  का  और  हमे  एक  दिन  में  कितना  पानी  पीना  चाहिए !
चुकी , दोस्तों  मैं  पहले  ही  Immune  System  के  BLOG  में  बता 
चूका  हूँ  कि  पानी  हमें  एंटीजन  को  मारने  में   मदद  करता  है। और  Friends  हम  जानते  है  कि हमारे  शरीर  में  क़रीब –  क़रीब  2/3  पानी  है  जो  लगभग  75%  होता  है। दोस्तों   हम  जानते  ही  है  कि   हम  पानी  के  बिना  एक  दिन  भी  नहीं  रह  सकते  क्योकि  हमारे  शरीर  के  Mechanism  को  चलाने   के लिए  और  Moisturize बनाये  रखने  के  लिए  पानी  कितना  ज़रूरी होता  है। 
 
 
तो  दोस्तों आईये सबसे  पहले  हम  जानते  है  कि  क्या- क्या  Problems  
हो  सकता  है  हमे  अगर  हम   गलत  तरीके  से  पानी  पीते  है। 
वैसे  तो  दोस्तों  गलत  तरीके  से  पानी  पीने  के  कई  सारे  नुक़सान  है 
जो   निम्लिखित  है:-
 

                       1. सर  में  चक्कर  आना 

                       2. घुटनों  में  दर्द 

                       3. चेहरों  में  रुझान ( स्किन रिलेटेड  प्रॉब्लम )

                       4. पाचनतंत्र  का ठीक  तरीक़े  से  काम  ना  करना 

                       5. थकान  महसुस  होना 

                       6. बालों  का  झरना 

                       7. और  Kidney  & Heart  समस्या 

 
तो  ये  सारे  जो  में  ऊपर  बताया  हूँ  तथा  और  भी  समस्या  जो  है  वो 
गलत  तरीक़े   से  पानी  पीने   कि  ही  वजह  से  होता  है। तो  ऐसा  ना  हो  इसी  लिए  सही  तरीक़े   से  पानी  पीना  बहुत  जरुरी है। तो  आये  कुछ  और  आगे  बढ़ते  है  और  अपना  सही  तरीका  जानते है  पानी  पीने  का  जो  निम्न्लिखित  है :-

1. क्या भोजन के तुरंत बाद या  उसी  समय पानी पीना सही  है ?
                             

drinking water while eating food

 


भोजन के तुरंत बाद पानी पीना कितना संतोषजनक होता है लेकिन क्या  आप जानते हैं कि यह शरीर को कितना प्रभावित करता है ?                 
यह गैस्ट्रिक रस को पतला करता है जिसके परिणामस्वरूप पाचन तंत्र   
की  खराबी हो सकती है। जिसके कारण आपको पूरे दिन सूजन और  गैस्ट्रिक समस्या का सामना करना पड़ेगा। जिसकी  वज़ह  से  आप  को  उल्टी ,गैस और  बेचैनी  जैसा  महसूस भी होगा। 
 
 इस समस्या को कैसे ठीक करें?
 भोजन के कम से कम 40 मिनट पहले या एक घंटे बाद पानी पिएं।

2. क्या  होगा  अगर  आप  बड़ी  मात्रा में  और  तेज़ी  से  पानी को  पीते  है ?

                               
क्या आप उन लोगों में से एक हैं जो प्यास लगने पर बड़ी मात्रा में पानी        
पीते हैं ?
  
यदि हाँ, तो आपको इस आदत को ठीक करने की आवश्यकता है।           
क्योंकि  जब भी आप बहुत जल्दी पानी पीते हैं, तो आपका पेट पानी से     
भर जाता है और अधिकांश पोषक तत्वों को स्वीकार किए बिना मूत्र के     
रूप में शरीर से बाहर निकल जाता है। यह भी अपच की ओर जाता है, क्योंकि लार पतला हो जाता है और पाचन के समय आवश्यक गैस्ट्रिक रस को उत्तेजित करने में सक्षम नहीं  होता है। जिस  वज़ह   से   खाना  का  पाचन  नहीं  हो  पाता  है  सही  ढंग  से। उल्टी  करने  का  मन  करता  है  तथा  मोटवा  में  बढ़ोतरी  होती है।  
          
 More Water At One Time > Less Saliva Will Go In Stomach
  
 इस समस्या को कैसे ठीक करें?
   
 पानी को टटोलने के बजाय इसे धीरे-धीरे और कम मात्रा में चूसें। 
 आप  ग्लास  या  सिपर के  साथ  पानी  पिये।     
 

3.   क्या  आप  भी  बर्फ़  का  बहुत  ठंडा  पानी  पीते  है ?

               
क्या आप अक्सर कार्यालय और धूप  वाली  जग़ह  से  वापस आने के बाद 
रेफ्रिजरेटर की ओर भागते हैं और अपनी प्यास बुझाने के लिए ठंडा पानी 
पीते  है ?
 
यदि हाँ, तो आपको ऐसा करना बंद कर देना चाहिए। क्योंकि यह रक्त वाहिकाओं को सिकोड़ता है जो पाचन प्रक्रिया को प्रतिबंधित करता है। यह आपके भोजन के वसा वाले हिस्से को मजबूत कर सकता है और इसे तोड़ना कठिन बना सकता है।ठंडा पानी पीने से भी कई समस्याएं देखी जाती हैं जैसे गले में खराश, जोड़ों में दर्द और आपके हृदय की गति भी धीमी हो सकती है।
 
इस समस्या को कैसे ठीक करें?
 
कमरे के तापमान का पानी पिएं।
 
यदि आप अभी भी ठंडा पानी पीना चाहते हैं, तो आपको मिट्टी के बर्तन, 
एक प्राकृतिक वाटर कूलर का उपयोग करना शुरू करना चाहिए जो पानी
से अशुद्धियों को दूर करता है और साथ ही आपके Metabolism को भी 
बढ़ावा देता है  जिस  वज़ह  से  आप  का  शरीर  शक्ति  बढ़ेगा ।

4.  क्या  आप  भी  बहुत  अधिक  पानी  पीते  है ?
 

                            

 

 

अगर  हां  है,  तो  आप  भी  सावधान  हो  जाए  क्योकि  हम  जानते  है कोई  भी  चीज़  Balance  में  करे  तभी  ना  Benefits  देता  है। ज्यादा  
पानी  पीने  से  सोडियम  हमारे  रक्त  में  इलेक्ट्रोलाइट  के  रूप में  मौजूद 
होता है।जो आपकी कोशिकाओं में और उसके आसपास पानी की मात्रा को नियंत्रित करने में मदद करता है। बहुत अधिक पानी पीने से इस सोडियम तत्व  DNA  में  पतला हो  सकता  है जो कोशिकाओं की सूजन की ओर जाता है, इसे हाइपोनेट्रेमिया (Hyponatremia) के रूप में जाना जाता है।
 
   
Too Much Drinking Water > Dilutes The Sodium Level In Blood 
 
Vessel.
 
और  ज्यादा  पानी  पीने  से  हमारा  Cells  फूलने  लगता  है। यह कम ऊर्जा स्तर, सिरदर्द, कमजोरी, चिड़चिड़ापन, मांसपेशियों में ऐंठन, मतली, भ्रम और यहां तक ​​कि कोमा जैसी चरम स्थितियों में कई समस्याओं का कारण बन सकता है। इसीलिए  आप  जो  भी  पिए  Limite  में  पिये। 

5.  क्या  आप  भी  दिन  में  खड़े  होकर  पानी  पीते  है ?

                       

 

 
अगर  हाँ  है  तो  आप  को  सावधान  हो  जाना  चाहिए।चुकी  हम  अपने  काम  में  इतने  व्यस्त  रहते  है  कि  पानी  पीने   को इतना  महत्तव  नहीं  देते  है  जितना  देना  चाहिए। और यहां तक ​​कि पानी पीने की जल्दी में भी कि आप खड़े, चलते या दौड़ते हुए भी पानी पी सकते हैं।खड़े होकर पानी पीना आपकी किडनी की कार्यप्रणाली को प्रभावित कर सकता है क्योंकि यह ठीक से फ़िल्टर नहीं कर पाता है।  मांसपेशियों और नसों को एक स्थिर स्थिति में आराम नहीं दिया जाता है।जिससे आपकी नसों को तरल पदार्थों को जल्दी से पचाने में मुश्किल होती है।यह जोड़ों के दर्द और गठिया का कारण भी बन सकता है।इसीलिए   आप  बैठ  कर  और  स्थिर स्थिति में आराम  से  पानी  पिये। 

6. क्या  आप  सुबह  उठते  ही  बाथरूम  जाते  है  तथा  कुल्ला   कर   

लार  को  बहा देते  है ?

                 

 

यदि ऐसा है तो आप रोज एक बड़ी गलती कर रहे हैं। 
क्योंकि जब आप उठते हैं तो आपका मुंह लार से भरा होता है जो वास्तव 
में पाचन प्रक्रिया में सहायक होता है। इस लार को सम्मिलित करने से आपके पूरे दिन स्वस्थ पाचन सुनिश्चित होता है।
इसीलिए   आप  को  सुबह  उठते  ही  एक  गिलास  गर्म  पानी  पीना
चाहिए। ताकि , आप  के  सारे  Saliva  आप  के  पाचनतंत्र  में  जा  कर  आप  के खाना  पचाने  में  अच्छी  तरीक़े   से  मदद  मिल  सके। 
 

7. क्या  आप  बेड  पर  जाने  से  पहले  एक  गिलास  पानी  पीते  है ?

     

 

 यदि  हाँ  है  तो  आप  को  धयान  ऱखना  चाहिए।अध्ययनों से पता चलता है कि बिस्तर से पहले एक गिलास पानी पीना आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा है। क्योंकि यह आपके चयापचय( Metabolism ) और  रक्त परिसंचरण ( Blood  Circulation  Rate ) आदि को बढ़ाता है। 
 
लेकिन क्या आपका नींद का चक्र बाधित होता है जैसे आप रात में पेशाब 
 
के लिए उठते है?
 
बिस्तर पर जाने से कम से कम एक घंटे पहले आपको पानी पीना चाहिए। 
यह आपको रात भर हाइड्रेट रखता है।पानी आपके शरीर के लिए एक आवश्यक तत्व है और सही तरीके से सेवन करने पर आपको फायदा हो सकता है। वैसे  तो व्यक्ति  दर  व्यक्ति  पानी  पीने  का  दर  अलग -अलग  है ,लेकिन  मैं  आप  को  बताना  चाहूँगा   कि   आप  को  हर  रोज़   क़रीब

2  से  2.5  लीटर  पानी  पीना  चाहिए। 


तो   इसी  के  साथ  अब  आप  जान  चुके  है  सही  Way  में  पानी  पीने  
का  तरीक़ा  तो  जब  भी  आप  पानी  पिये  तो  इस चीज़  का  ध्यान 
रखियेगा। 
 
आपका  धन्यवाद  !!!
 
 
 

Leave a Comment