Body Health Science :वीर्य निष्कासन के क्या नुकसान हैं || वीर्य को पुनः प्राप्त करने के लिए व्यायाम क्या है || PART-2- Explained In Hindi

Body Health Science :वीर्य  निष्कासन के क्या नुकसान हैं || वीर्य को पुनः प्राप्त करने के लिए व्यायाम क्या है || PART-2- Explained In Hindi

दोस्तों   आज   मैं   वीर्य   से  Related  PART – 2  लिख  रहा  हूँ  तथा  PART -1   में  मैं  वीर्यवान  व्यक्ति  के  बारे  में  बात  किया  था  की  कैसे  वो  महान  व्यक्ति  वीर्य  को  व्यर्थ  में  ना  इस्तेमाल  किये  तथा  उसे  अपने  भौतिक  जीवन  में   मानव  जाति के  हित  के  लिए  अपना योगदान 
दिए। जैसे :- स्वामी  विवेकानंद , निकोला  टेस्ला  और  भी महान – महान  व्यक्ति  अगर  गिनवाने  लग  गया  तो  आगे  मैं  लिख नहीं  पाउंगा  तो  इसी  के  साथ  मैं  आज  इस  PART -2  BLOG  की शुरुआत  करता  हूँ। 

semen-retention-health-and-fitness-in-hindi
semen-retention


दोस्तों  आज  का  हमारा  Topic  है  जब  हम  व्यर्थ  में  वीर्य  बहाते   है  
तो  इसका  का  क्या  दुष्प्रभाव  हमारे  शरीर  पर  पड़ता  है  और  साथ  
ही  हम  ये  भी  देखेंगे  की  हम  कैसे  इसे  पुनः प्राप्त  कर  सकते  है।  
और  हम  भी  उन  महान  आत्मा  की  तरह  कैसे  इस  धरती  पर  
वीर्यवान  बन  सकते  है  तथा  इसका  अच्छे  कामो  में  कैसे  इस्तेमाल  
कर   सकते  है  और  कैसे  हम  भी  योगदान  दे  सकते  है।   

  
So Let’s Get Started…

दोस्तों  जैसा  की  हम  जानते  है  कोई  भी  चीज़  सिमित  में  होता  है  
तो   हम  अच्छे  महसुस   और  अगर  यही  ज्यादा  मात्रा  में  हो  तो  
नुक़सान   दे  होता  है। और  हम  इसे   के  साथ  आगे  बढ़ते  है   

और  वो  नुक़सान  निम्न्लिखित  है :-
                          

1.हस्तमैथुन ( Masturbation ) के  लत  … 

      दोस्तों  एक  बात  आप  जानते  है  जो  व्यक्ति  Fap  करते  है  उसके  
 
    लिए  वो  ही  परम सुख  है  और  वो  हर  वक़्त   उसी  के  बारे  में  
 
    सोचता  रहता  है  और  किसी  चीज़  में  उसका  मन  भी  नहीं  लगता  
 
    है। 
 
                       

2. हस्तमैथुन  करते  समय  आप  को  मज़ा   आता  है  लेकिन  

     बाद  में  आप  अपने  आप  को  शारीरिक  रूप  से  और  

     मानसिक  रूप  से  कमज़ोर  समझते  है , क्योकि  आप  एक  

     बार  में  ही  सारे  Energy  गिरा  देते  है।

3. जब  आप  हरपल  Masturbation  करते  है  या  यूँ  कहे  की  

     दिन  में  3 -4  बार  तब  आप  को  कैल्शियम  की  कमी  हो  जाती  

     है  जिस  वजह  से  आप  को  Lower  Back Pain  की  शिकायत 

     होती   है।                         

 

 

4. हस्तमैथुन  की  वजह  से  आप  को  किसी  काम  में  मन  ना  

    लगना  तथा  आप  की  यादास  भी  कमजोर  होने  लगता  है। 

 

5.आप  की  एकाग्रता  में  कमी  यानी  जब  आप  हस्तमैथुन  के  

    आदि  हो  जाते  है  तब  आप  का  Concentrated  कम  होने  

    लगता  है।

 

6.हस्तमैथुन  की  वजह  से  आप  को  NightFall  होना  शुरू  हो  

    जाता  है  क्योकि  आप  हमेशा  गन्दी  बातें  ही सोचते  रहते  है।

    जिस  वजह  से  आप  का  वीर्य  पतला  और  प्रभाव  हिन्  हो  

    जाता  है।  

7. बालो  का  झरना ,  चेहरे  पर  मुँहासे   आना  और  बुढ़ापे  जैसा  

    दिखना  और  तेज़ी   से   बाल  का  सफ़ेद  होना। 

8.शरीर  के  मास  का  लटकना  और  हर  वक़्त   अकेला  अनुभव  

    करना  तथा  ऐसे  व्यक्ति  Suicide भी  कर  लेते  है। 

9. अपने  ही  नजरों   में  गिर  जाना  तथा  मान  लेना  की  मुझ  

     से  कुछ  नहीं  हो  सकता  है।   

10.और, शीघ्रपतन  का  शिकायत  और  धातु  रोग  की  गम्भीर

      समस्या , इत्यादि।  

तो   दोस्तों  ये  सारे  Problems  होते  है  अगर  आप  हस्तमैथुन  करते  
है। 

# IMPORTANT  BONUS  POINTS 
 
दोस्तों  क्या  आप  जानते  है  चेतन  मन  और अवचेतन  मन  की  शक्ति  
आप  का  चेतन  मन  जागते  समय  काम  करता  है  तथा  अवचेतन  मन  
सोते  समय  काम  करते  है। आप  का  10 % चेतन  मन  इस्तेमाल  
करता  है  जबकि  अवचेतन  मन  आप  के  दिमांग  का  90 %  इस्तेमाल  
करता  है। अवचेतन  मन , चेतन  मन  का  ग़ुलाम  है  यानी  आप  
अवचेतन  मन  से  कुछ  भी  पा  सकते  है  कुछ  भी  बरसते  आप  चेतन  
मन  में  अच्छी – अच्छी  बाते  डाले। 
इसीलिए  आप  अगर  चेतन  मन  से  कहते  है  की  ” मैं   हस्तमैथुन  अब  
से  नहीं  करूँगा  ” तो  अवचेतन  मन  इस  बात  को  आँख  मुंड  कर  
Follow  करेगा। 


Question  :- वीर्य को पुनः प्राप्त करने के लिए व्यायाम क्या है ?
 
वैसे  तो  कई  सारे  Important Exercise है  लेक़िन  आप  को  3  MAIN 
Exercise बताऊँगा। 
 
जो  निम्न्लिखित  है:-

1. Law  Of  Attraction:-

  दोस्तों  मैंने   Law Of Attraction के  बारे  में  लिखा  है  जो  आप  इस  
 
  ब्लॉग  को  पढ़ने  के  बाद  देख  सकते  है। 
 
  जब  आप  Law Of Attraction  को  समझ  जाते  है  तो  आप  कुछ  भी  
 
  हासिल  कर  सकते  है  यहाँ  तक  इस  दलदल  से  भी  अच्छे  विचार  
 
  कर  दिमांग से  बाहर  आ  सकते  है।    
 
 

2 .योग  कर  सकते  है  :-

  a. प्राणायाम  आसान  करे। 

                         

प्राणायाम,yoga
प्राणायाम

 

   
  b. त्रिबंध  प्राणायाम 

                 

त्रिबंध प्राणायाम, yoga-in-hindi
त्रिबंध  प्राणायाम 

 

 
  c. उत्तानपादासन 
 

                           

 

                           

उत्तानपादासन,utanpadasana-in-hindi
utaanpadasana

            

 

  d. बद्ध कोणासन 
 
                                
बद्ध कोणासन,yoga-in-hindi
badh-konasana

इससे  ज्यादा  आप  google  पर  धुंध  कर  इसे  अच्छे  तरीके  से कर

सकते  है।  तथा  आप  इस  नरक   से  दूर  जा  सकते  है। 
 

3.Meditation :-

दोस्तों  आप  को  बता  दे  की  ध्यान आसान  से  आप  कई  तरीके  के
अवाँछित  तत्व  को  हटा  सकते  है। तथा  मन  को  Control कर  सकते  है। 
 
तो  इसी  के  साथ  मैं  AINESH  KUMAR  कामना  करता  हूँ  की
आप  इस  ब्लॉग  में  बताए  राह  पर  चलेंगे  तथा  अपने  जीवन  में  एक 
प्रभावशाली  व्यक्ति  बनेंगे। 
 
आपका  धन्यवाद  !!!

Posted By Ainesh Kumar

1 thought on “Body Health Science :वीर्य निष्कासन के क्या नुकसान हैं || वीर्य को पुनः प्राप्त करने के लिए व्यायाम क्या है || PART-2- Explained In Hindi”

Leave a Comment