Universe Information : Big Bang Theory || महा विस्फोट || ब्रह्मांड की शुरुआत || The beginning of the universe- Explained In Hindi

Universe Information: Big Bang Theory || महा विस्फोट || ब्रह्मांड की शुरुआत || The beginning of the universe- Explained In Hindi

Hi , Guys  आज  हमारा  प्रश्न  है  की  क्या  सच  में  ब्रह्मांड  की  शुरुआत  एक  Big  Bang हुआ  है  या यूँ  कहे  की  एक  महा  विस्फोट से  हुआ वैज्ञानिको  को  मालूम  हुआ  की  ये  ब्रह्माण्ड  आज  भी  फैल  रहा  है, तो  उन्होंने  जानने  की  कोशिश  की  ये  कैसे  फैल  रहा  है और  इस  सब  की  शुरुआत  कहा  से  हुई  है, तो  आज  हम  इसी  के  बारे  में  चर्चा  करेंगे। 

So Let’s Begin ...
 

14  अरब  साल  पहले   से   लेकर  आज  तक  का  माज़रा__

बिग  बैंग  के  लगभग  एक  अरब  साल  बाद,  गुरुत्वाकर्षण  ने

इन  परमाणुओं  को  गैस  के  विशाल  बादलों  में  इकट्ठा  किया, 

जिससे  आकाशगंगाओं  के  रूप  में  सितारों  का  संग्रह  हुआ। 

गुरुत्वाकर्षण  वह  बल  है  जो  किसी  वस्तु  को  द्रव्यमान  के  साथ 

एक  दूसरे  की  ओर  खींचता  है – एक  ही  बल,  उदाहरण  के  लिए, 

जिससे  हवा  में  फेंकी  गई  एक  गेंद  पृथ्वी  पर  गिरती  है।

 
पहली  बार  किसने  इस  बिग   बैंग  की  बात  की  थी 1927  में, 

जॉर्जेस  लेमट्रे  नामक  एक  खगोलशास्त्री  का  एक  बड़ा  विचार  

था।  उन्होंने  कहा  कि  बहुत  समय  पहले,  ब्रह्मांड  केवल  एक  बिंदु 

के  रूप  में  शुरू  हुआ  था।  उन्होंने  कहा  कि  ब्रह्माण्ड  फैला  हुआ 

है  और  इसका  विस्तार  अब  जितना  हो  सके  उतना  बड़ा  हो  सकता  
 
है,  और  यह  कि  यह  फैला  रह  सकता  है।
 
बिग  बैंग  के  दौरान,  ब्रह्मांड  में  अंतरिक्ष,  समय,  पदार्थ  और ऊर्जा  सभी
 
का  निर्माण  हुआ।  इस  विशाल  विस्फोट  ने  सभी  दिशाओं  में  पदार्थ
 
फेंका  और  अंतरिक्ष  का  विस्तार  करने  के  लिए खुद  को  प्रेरित  किया।  
जैसे  ही  ब्रह्मांड  ठंडा  हुआ,  उसमें मौजूद  सामग्री  ने  आकाशगंगाओं,  
 
तारों  और  ग्रहों  को  मिला दिया। 
The Big Bang Theory :-  बिग  बैंग  वह  नाम  है  जिसका  उपयोग वैज्ञानिक  ब्रह्मांड  के  सबसे  सामान्य  सिद्धांत { Basic Principle }  के  लिए  करते  हैं,  जो  शुरुआती  दिनों  से  लेकर  आज  तक  है। ब्रह्मांड  बहुत  गर्म,  छोटे  और  घने  सुपरफोर्स  (चार  मूलभूत  बलों का  मिश्रण )  के  रूप  में  शुरू  हुआ,  जो  नहीं  होते  तो  कोई  तारे,  परमाणु, रूप  या  संरचना  नहीं  होती (जिसे “विलक्षणता -Singularity” 
कहा  जाता  है )।
 
लेकिन  मेरा  ये  कहना  है  की  जब  हम  इस  Basic Or Fundamental
 
घटना  को  अपनी  आखों  से  नहीं  देखे  है , तो हम  कैसे  मान ले  की
 
इस  ब्रह्माण्ड  का  विस्तार  बिग   बैंग   के बाद  ही  हुआ  है। 

तो  आज  हम  इसी  के  बारे  में  और  विस्तार  से  जानेंगे  की  बिग 

बैंग  के  पक्ष  में  है  और  क्या  नहीं  है।  

 
Important  Points :– दोस्तों  क्या  आप  जानते  है  की  हमारे ब्रह्माण्ड  के  ज्यादातर  रहस्य  को  Hubble  Space  Telescope  ने ही  सुलझाया  है  इसी  के  साथ  इस  टेलिस्कोप  ने  एक  बार अनुभव  किया  की  जो – जो  ग्लैक्सी  हमारे  पास  है वो  धीरे -धीरे   हमसे  दूर  जा  रही  है और जो – जो  Material  हम  से  दूर  है  वो  और  दूर  जा रहे  है। तब  वैज्ञानिकों  को  पता  चला  की  ये Universe  लगातार  फैल  रहा  है। तो  इस  से  ये  पता  चला  की  ब्रह्माण्ड  स्थिर  नहीं   है   वो  हमेशा  फैल  रहा  है। अब  किसी  को  ये  तो  नहीं  पता  था  की  ब्रह्माण्ड  कैसे  लगातार  फैल  रहा  है  पर  उन्होंने  सोचा  की  जब  ये  फैल  रहा  है  तो  क्या  ये  नहीं  हो  सकता  की  एक  वक़्त  ये  सब Material  एक  ही  बिंदु  में  रहा  हो  खैर  ये  सब  तो  सिर्फ  अंदाजा था  लेकिन  यही  से  Big Bang का  सिद्धांत आया। 

हमारा  आँख  सिर्फ़ Visible  Light  को  ही  देख  सकता  है, 

जो  इलेक्ट्रोमग्नेटिक वेव { Electromagnetic Wave } के  कुछ  पार्ट  

है। लेकिन  जब  Wavelength  बढ़ता  है  तब  वो  माइक्रो  Wave  से 

Radio Wave  की  तरफ  कूच  करता  है। 

Arno Penzias &  Robert Wilson :– 1964  ये  दोनों Astronomer 

एक  नये  रेडियो  टेलिस्कोप  पर  अपना  संशोधन  कर  रहे  थे 

और  जिस  Telescope  पर  काम  कर  रहे  थे   उसके  Antenna  

Radio Wave और  Microwave  को  Observe  कर  सकते  थे। 

तब  उन  दोनों  ने  सोचा  की  हम  मिल्कीवे  द्वारा  छोड़ी  हुई 

Light  को  Consider  करेंगे ।  जब  उन्होंने  Empty  Space  की  

तरफ  उस  Radio Telescope  को  धूमारे  तब  उनके  होश  उड़  गए  

क्योकि  उनके  हिसाब   से  Empty Space  है  तो  उस  में  कुछ  भी  

नहीं   होना  चाहिए   लेकिन  उन्होंने  Observe किया  की  वहा  और चारों  
 
तरफ  से  Microwave  हर  तरफ  से  ये  Wave  आ  रहे  थे , इसका  
 
मतलब  ये  था  की  वहा  कुछ  गर्म  चीज़  है  लेकिन  जब  उन्हें  ये  
 
Wave चारों   तरफ  से  अनुभव  किया  तो  उन्होंने  सोचा  की  ये  कोई 
 
तकनीकी  Problem  है   इसी   लिए   उन्होंने   उस Telescope  को  
 
अच्छे से  सफ़ाई  की  फिर भी  वे  Signals  आ  रहे  थे। उन्हें  पता  तो  
 
नहीं  था  की  ये  सब  क्या  है  लेकिन  उन्होंने अनजाने  में  Big  Bang के  
 
सबूत  ख़ोज  लिए थे  यानी  उसके  द्वारा छोड़े  गए  शुरुआती  सालो  के  
 
Microwave  को  उन्होंने  Observe कर  लिए  थे। 
 
इसी  ख़ोज  के  लिए  इन्हे  1978  में  Novel Prize से  भी  सम्मानित  
किया  गया। 
 
Wilkinson Microwave Anisotropy Probe (WMAP )–

Arno Penzias &  Robert Wilson  के  द्वारा  अनुसंधान  से   पता  

लगने  के  बाद  वैज्ञानिकों  ने  WMAP Launch  किया  जो  2001  में  

किया  गया  था  और  जो  एक  Spacecraft  था। इसके  बाद ब्रह्माण्ड  
 
की  शुरूआती   सालो  की  एक  Globe और  यूँ  कहे  की  एक  Map 
 
तैयार  किया  गया  जिसे  तैयार  करने  में  लगभग  8  से 9  साल  लग  गए।
 
आप  उस  Spacecraft को  भी  देख  सकते  है  और  उस  Map  को भी  
 
वो निचे दिया गया है।  
 

 

तो  इसी  के  साथ  I Hope It Was Helpful For YOU .
और  आप  आज  कुछ  नया  सीखे  होंगे  और  अगर  आप  के  मन  में  कोई  भी  इस  ब्लॉग  से  सम्बंधित  सवाल  है  तो  Comment में  बताये  मैं Reply  अवश्य  करूँगा। 

 

Thank you!  

Posted By Ainesh Kumar 

Leave a Comment