वीडियो गेम का एक संक्षिप्त इतिहास क्या रहा है ??? A Brief History of Video Games || Video Games In Hindi || By Ainesh Kumar

a-brief-history-of-game
विडियो

 

 वीडियो गेम का एक संक्षिप्त इतिहास क्या रहा है ??? A Brief History of Video Games || Video Games In Hindi || By Ainesh Kumar

 

आज भारत और देश के कोने – कोने से लोग video games खेलते है बल्की खेलते ही नहीं है अपितु youtube जैसे platform पर विडियो upload कर के पैसे भी कमाते है. आज के youth ज्यादा समय videos बनाने और videos games खेलने में ही बिताते है लेकिन क्या आप जानते है की क्या रहा है विडियो games का इतिहास, कैसे video game अभी लाखों – करोड़ो लोगों का पसंदीदा खेल हो चूका है, video game बनाने के पीछे क्या कारण था. 

नमस्कार दोस्तों, आज के आर्टिकल (  वीडियो गेम का एक संक्षिप्त इतिहास क्या रहा है ??? A Brief History of Video Games || Video Games In Hindi || By Ainesh Kumar ) में हम जानने वाले है विडियो games के इतिहास के बारे में एक संशिप्त जानकारी तो आप अंत तक बने रहे.

तो दोस्तों आप जानते होंगे की pubg, freefire, granny chapter 1,2,3 और call of duty ये सब कुछ ऐसे games है जिसे आप youtube पर आसानी से देख सकते है और ऐसे गेम से लोग काफी कमा रहे है.

हम आगे आर्टिकल में बढ़े उस से पहले आप निचे दिए गये आर्टिकल के लिंक के द्वारा जा कर इन लेख को पढ़ सकते है.

 

यह भी पढ़े: 

{ HINDI } How to download Battlegrounds Mobile India || Pubg mobile new update 2021 || Battlegrounds Mobile India APK Download link – Pubg Game

 

तो चलिए अब आगे बढ़ते है और जानते है वीडियो गेम का एक संक्षिप्त इतिहास क्या रहा है ??? A Brief History of Video Games || Video Games In Hindi || By Ainesh Kumar

 

A Brief History of Video Games || Video Games In Hindi

 
video-game-in-hindi
video_game

 

 वीडियो गेम के इतिहास का पता 1940 के दशक में लगाया जा सकता है जब थॉमस टी. गोल्डस्मिथ ने “कैथोड रे ट्यूब एंटरटेनमेंट डिवाइस” के रूप में वर्णित एक डिज़ाइन के लिए यू.एस. पेटेंट दायर किया था। 1970 और 1980 के दशक तक, जब होम कंप्यूटर गेम, गेमिंग कंसोल और आर्केड वीडियो गेम आम जनता तक पहुंचे तो वीडियो गेम पहले से मौजूद लोकप्रियता तक नहीं पहुंचे। तब से, वीडियो गेम ने दुनिया भर में सर्वश्रेष्ठ मनोरंजन मोड और आधुनिक संस्कृति के हिस्से के रूप में लोकप्रियता हासिल की। वर्तमान में, वीडियो गेम को वीडियो गेम कंसोल की 8 पीढ़ियों में माना जाता है।

 

1949 और 1950 के बीच, “बॉल बॉल” कार्यक्रम MIT के बवंडर कार्यक्रम के चार्ली एडामा द्वारा विकसित किया गया था। कार्यक्रम काम नहीं कर सका लेकिन आगामी खेलों की घोषणा के रूप में देखा गया। फरवरी 1951 में, क्रिस्टोफर स्ट्रैची ने पायलट एसीई द्वारा लिखित योजनाओं के मसौदे पर काम किया। प्रोग्राम सिस्टम के मेमोरी आउटपुट के लिए जिम्मेदार था इसलिए स्ट्रैची ने मैनचेस्टर में उच्च मेमोरी क्षमता के साथ एक प्रोग्राम रिकॉर्ड किया। 1951 में, जब न्यूयॉर्क स्थित एक बिजली कंपनी, लॉरल के लिए टेलीविजन तकनीक विकसित की गई थी, तो राल्फ बेयर नाम के एक संस्थापक ने केवल मापने वाले उपकरणों की तुलना में बेहतर प्रदर्शन के लिए पैटर्न और रोशनी का उपयोग करने का विचार रखा। तब उन्होंने पाया कि दर्शकों को टेलीविजन पर जो दिखाया जा रहा था उसे धोखा देने की शक्ति देकर, भूमिका में बदलाव को गैर-देखने से सामूहिक धोखे के रूप में देखा गया था। इस विचार को प्रबंधक के पास ले जाया गया जो तुरंत प्रभावित हुआ क्योंकि कंपनी समय सीमा के बाद पहले से ही काम कर रही थी।

 

1952 में, ए.एस. डगलस ने OXO बनाया जो कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय में कंप्यूटर के साथ मानव संपर्क पर थीसिस दिखाने के लिए ग्राफिक्स का टिक-टैक-टो संस्करण था। ऐसा करने के लिए ईडीएसएसी कंप्यूटर का उपयोग किया गया था जो स्मृति सामग्री को प्रदर्शित करने के लिए छवियों को प्रदर्शित करने के लिए कैथोड रे ट्यूब का उपयोग करता था। इस गेम में खिलाड़ी को कंप्यूटर से मुकाबला करना होता था। 1958 में विलियम हिंगिनबोथम ने एक एनालॉग कंप्यूटर और एक आस्टसीलस्कप की मदद से खेल को डिजाइन किया। इसे दो के लिए टेनिस कहा जाता था और इसका उपयोग न्यूयॉर्क के ब्रुकहेवन नेशनल लेबोरेटरी में मेहमानों के मनोरंजन के लिए किया जाता था। खेल में एक गेंद के साथ एक साधारण टेनिस कोर्ट दिखाया गया था जिसे गुरुत्वाकर्षण द्वारा नियंत्रित किया गया था और नेट का उपयोग करके खेला जाना आवश्यक था। इस गेम को खेलने के लिए 2 बॉक्स के आकार के नियंत्रणों की आवश्यकता थी और दोनों नियंत्रणों में एक ट्रैफिक जेट और गेंद को हिट करने के लिए एक बटन शामिल था। यह नाटक 1959 में पूरा हुआ था।

 

1959 से 1961 तक बड़े कंप्यूटर गेम अमेरिकी विश्वविद्यालयों में उपलब्ध प्रमुख कार्यक्रमों पर चलाए गए और लोगों द्वारा अपने शौक के रूप में बनाए गए। 1961 में, स्टीव रसेल सहित एमआईटी, एसी में छात्रों के एक समूह ने स्पेसवार नामक एक नाटक रिकॉर्ड किया। इस खेल में दो मानव खिलाड़ी थे जिन्हें अकेले खेलना था और हर एक एक अंतरिक्ष यान ले जा रहा था जिसमें तीर चलाने की क्षमता थी और केंद्र का तारा कलात्मक खतरे पैदा करने के लिए था। इसने कंप्यूटर गेम के एक नए युग की शुरुआत को चिह्नित किया और उसके बाद, प्रगति और विकास जारी रहा।

 

 

history-of-video-game-in-hindi
video

 

 

Conclusion 

 

मुझे पूर्ण आशा है की मैंने आप लोगों को ” वीडियो गेम का एक संक्षिप्त इतिहास क्या रहा है ??? A Brief History of Video Games || Video Games In Hindi || By Ainesh Kumar” उसके के बारे में पूरी जानकारी दी और में आशा करता हूँ आप लोगों को पता चल गया होगा की कैसे और कौन से तरीके है जिससे विडियो गेम बना है तो मुझे आशा है की आप को समझ आ गया होगा।

 

आज आपने क्या सीखा, मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख  ( Online ) वीडियो गेम का एक संक्षिप्त इतिहास क्या रहा है ??? A Brief History of Video Games || Video Games In Hindi || By Ainesh Kumar जरुर पसंद आई होगी। दोस्तों अब हम बात करते है की आखिर में आप ने क्या जाना कुछ प्रश्न के बारे में जो कुछ इस प्रकार है जैसे – history of video games | विडियो गेम के इतिहास क्या है | विडियो गेम कैसे खेलते है तथा विडियो games के बनाने का कारन ,etc.

 

दोस्तों आप लोगों को “”  (वीडियो गेम का एक संक्षिप्त इतिहास क्या रहा है ??? A Brief History of Video Games || Video Games In Hindi || By Ainesh Kumar “” के बारे में पूरी जानकारी पता चल गया होगा।

 

लोग search करते है वो कुछ इस प्रकार के प्रश्न होते है जो आपको निच्चे दिख रहा है, इसके अतरिक्त और भी प्रशन पूछा जाता हैआप अंदाज़ा लगा सकते है। 

 

video game ka history

video games

history of video games

history of video games in hindi

what is history of video games

video games kaise bana in hindi

how to start video games

 

तो दोस्तों मैंने सारे प्रश्न को Cover Up कर दिया है आप समझ गए होंगे अगर आप ने पूरी सीदत से मेरे इस आर्टिकल को पढ़े होंगे तो। लेकिन फिर भी आपके मन में कोई भी सवाल है तो आप कमेंट में अपना Question पूछ सकते है।  यदि आप लोगों को किसी भी तरह की कोई भी doubt है तो आप मुझे बेझिजक पूछ सकते हैं. मैं जरुर उन Doubts का हल निकलने की कोशिश करूँगा। आपको यह लेख ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए – ऑनलाइन पैसे कमाने के असली तरीके कैसा लगा हमें comment लिखकर जरूर बताएं ताकि हमें भी आपके विचारों से कुछ सीखने और कुछ सुधारने का मोका मिले।

 

अगर आप सब को मेरे इस आर्टिकल से कुछ ज्ञान मिला या आप ने कुछ जाना तो Please इस आर्टिकल को अपने दोस्तों और रिश्तेदारों में Share करे। ताकि आपका Knowledge और बढ़े तथा साथ ही अपने जानने वालों का भी अब अगर आप कुछ पूछना चाहते है या आप कोई और टॉपिक से related आर्टिकल चाहते है तो भी Comment करे नहीं तो आप Facebook और Instagram पर भी Follow कर सकते है और पूछ सकते है।  मुझे आप लोगों की सहयोग की आवश्यकता है जिससे मैं और भी नयी जानकारी आप लोगों तक पहुंचा सकूँ।

 

 

जय हिंद जय भारत ( हिंदुस्तानी है हम )

धन्यवाद!

Posted By: Ainesh Kumar

 

Related Article:

एक ऑनलाइन ब्लॉग कैसे शुरू करें – How To Start An Online Blog – A Quick Way To Build A Site || How to Plan Your Blog Content || In Hindi

 

 
 
 
 
 

Leave a Comment